केंद्रीय सचिव ने अन्य वरिष्ठ अधिकारी के साथ मिलकर गांव वालों को दी ‘ऐसी सीख’ जिसके बाद दुनिया कर रही है सलाम…

केन्द्रीय स्वच्छता सचिव ने पेश की अनूठी मिसाल, तेलंगाना के एक गांव में शौचालयों के गड्ढों में घुस किया ये काम...

4348

पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के चलते तेलंगाना के नौकरशाहों ने दुनिया के आगे पेश की अनोखी मिसाल

सभी को याद होगा कि बीते साल 2014 को नई दिल्ली में राजपथ पर स्वच्छ भारत अभियान का शुभारंभ करते हुए पीएम नरेन्द्र मोदी ने कहा, “2019 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर भारत उन्हें स्वच्छ भारत के रूप में सर्वश्रेष्ठ श्रद्धांजलि दे सकता हैl” 2 अक्टूबर 2014 को देश भर में एक राष्ट्रीय आंदोलन के रूप में स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत स्वयं पीएम मोदी ने की थीl

पीएम मोदी ने अपने कार्यकाल में VIP कल्चर को खत्म करने पर भी खासा जोर दिया हैl जहा आज जब कोई अफसर घर से निकलता है तो अपने साथ पूरा गाडियों का काफिला लेकर चलता है जिसे दूर से ही देख कर कोई भी अंदाज़ा लगा ले की कोई बड़ा अफसर आ रहा हैl

नौकरशाही के ज़माने  में आज जहां बड़े अफसर एक नहीं 2-2 सरकारी गाडियों का प्रयोग करना अपनी शान समझते हैं वहीं VIP कल्चर त्याग कर बिल्कुल आम युवा की तरह बीते महीने फ़रवरी में 23 राज्यों के करीब एक दर्जन वरिष्ठ नौकरशाहों ने ऐसा ही करके दिखाया हैl इनमें केंद्रीय स्वच्छता सचिव परमेश्वरन अय्यर भी शामिल हैंl

सफाई की बात करना और लोगों को इसके महत्व की सीख देना एक बात है, लेकिन इसे खुद करके मिसाल कायम करना बिल्कुल अलग ही बात हैl आपको बता दें कि केंद्रीय स्वच्छता सचिव परमेश्वरन अय्यर के साथ इन सभी अधिकारियों ने बीते दिनों चार घंटे लंबी बस यात्रा की और हैदराबाद से तेलंगाना स्थित वारंगल पहुंचेl तेलंगाना पहुँच कुछ अन्य अधिकारियों के साथ मिलकर इन सभी नौकरशाहों ने गंगादेवीपल्ली गांव में पहुँच पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान और नौकरशाही का त्याग कर ईमानदारी की ऐसी मिसाल पेश की है जिसे सुन खुद पीएम मोदी दंग रह गयेl

आगे पढ़ें पीएम मोदी की अपील के चलते केंद्रीय सचिव को घुसना पड़ा शौचालयों के गड्ढों में और फिर…

1 of 2

Loading...
Loading...