Video: अगर आप भी पूर्ण निवस्त्र होकर नहाते हैं तो श्रीकृष्ण जी के ये वचन आपके लिए हैं…

इसलिए हमें निर्वस्त्र होकर कभी भी नहीं करना चाहिए स्नान...

85298

श्री कृष्ण के कथन के अनुसार व्यक्ति को नहीं करना चाहिए निर्वस्त्र होकर स्‍नान

हिन्दू धर्म को कभी-कभी परंपरा का नाम भी दिया जाता हैl अब यह धर्म है या एक परंपरा, ये बात पिछले काफी समय से विवाद का विषय रही है और ये विवाद अभी भी बदस्तूर जारी हैl खैर हम किसी भी प्रकार के विवाद में ना पड़ते हुए आपको हिन्दू धर्म ग्रंथों में दर्ज कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो आपके जीवन को सफल बना सकती हैंl

विभिन्न हिन्दू धर्म ग्रंथों में बहुत सी उपयोगी बातों का जिक्र किया गया है, उन्हीं में से कुछ खास बातें या निर्देश हम आपको बताने जा रहे हैंl

यूं तो स्नान करना हमारे नित्य कर्मों में शुमार है, स्नान करने के बाद ही शरीर शुद्ध होता है और इसके बाद ही व्यक्ति कोई पवित्र या शुभ कार्य करने के लिए स्वतंत्र होता हैl लेकिन पद्मपुराण के अंतर्गत स्नान करने से जुड़े कुछ नियमों का उल्लेख है जो स्वयं श्रीकृष्ण ने अपनी गोपियों से कहे थेl

आपको बता दें कि अगर आप स्नान करते समय अपने शरीर पर तौल‌िया या कोई अन्य वस्‍त्र को लपेटते ही होंगे अगर ऐसा नहीं करते हैं तो आप क‌ितनी बड़ी गलती कर रहे हैं शायद इसका आपको पता भी नहीं होगाl अगर आप यह जान लेंगे क‌ि आख‌िर क्यों न‌िर्वस्‍त्र होकर स्नान नहीं करना चा‌ह‌िए तो आप चाहे बाथरूम में स्‍नान करें या कहीं और आप जरूर कपड़े पहनकर ही स्नान करेंगेl

आगे पढ़ें श्रीकृष्ण ने स्वयं चीर हरण की लीला में बताया कि अगर निर्वस्त्र होकर करेगें स्नान तो…

1 of 3

Loading...
Loading...