अर्नब गोस्वामी के चैनल से जुड़ा ये बड़ा खुलासा, अगर सच निकला तो वाकई काफी खौफनाक है!

आगाज़ के साथ ही अर्नब को विवादों में फंसता देख कर ये तो साफ़ हो ही गया था की अभी ऐसे कई और खुलासे और राज़ ज़रूर आने बाकी हैं जो लोगो का होश उड़ा सकते हैं|

4790
अंग्रेजी न्यूज चैनल टाइम्स नाऊ के पूर्व एडिटर इन चीफ और एंकर अर्नब गोस्वामी के चैनल छोड़ने के बाद से ही अटकले लगाई जा रही थीं कि वह खुद का चैनल लाने जा रहे हैं और ये बात सच भी निकली जब खुद अर्नब गोस्वामी ने दुनिया को  बताया कि वो अब खुद अपना नया वेंचर ‘रिपब्लिक’ जल्द ही लेकर आ रहे हैं| अर्नब ने 1 नवंबर को टाइम्स नाऊ से इस्तीफा दिया था। उनके जाने के बाद राहुल शिवशंकर को चैनल का एडिटर इन चीफ बनाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक अर्नब का नया चैनल 2017 की पहली तिमाही में होने जा रहे उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव से पहले शुरू हो जाएगा।
Source
..लेकिन अर्नब गोस्वामी का नया चैनल ‘रिपब्लिक’ लॉन्चिंग से पहले ही विवादों में आ गया है। चैनल के खिलाफ बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सूचना प्रसारण मंत्रालय में शिकायत दर्ज करा दी गयी थी। प्रसारण मंत्रालय को 13 जनवरी को लिखे एक पत्र में बीजेपी सांसद ने कहा था कि प्रतीक और नाम (अनुचित प्रयोग की रोकथाम) एक्ट 1950 के तहत, कुछ नामों और प्रतीकों के व्यावसायिक व वाणिज्यिक प्रयोजनों के लिए इस्तेमाल पर पाबंदी है। सुब्रमण्यम स्वामी ने चैनल के नाम पर आपत्ति जताते हुए कानूनी कार्रवाई की धमकी दी थी और कहा था कि प्रसारण मंत्रालय द्वारा ऐसे चैनल को लाइसेंस देना कानून का उल्लंघन है।

अगली स्लाइड में जानिए कैसे अर्नब ‘रिपब्लिक’ नहीं बल्कि ndtv के साथ…