मुसलमानों के संरक्षक और भारत को तोड़ने वाले जिन्ना के बंगले को गंगाजल….

जब एक तरफ भारत देश का बंटवारा हो रहा था तब जिन्ना सबकुछ छोडकर दिल्ली में अपने बंगले की सौदेबाजी में लगे हुए थे|

5277
भारत के लोगों के लिए जिन्ना भारत के बंटवारे के लिए जिम्मेदार एक ऐसी शख्सियत हैं, जिन्हें अकसर देशद्रोही करार दिया जाता रहा है, तो वहीँ दूसरी तरफ पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लोग उन्हें अपना संरक्षक मानते हैं, जिन्होंने हिन्दुओं के समक्ष मुसलमानों के हितों की बात रखी और उन्हें हिन्दू आक्रमण से बचाया। भारत और पाकिस्तान के लोग जिन्ना के लिए अलग-अलग दृष्टिकोण रखते हैं।
Source
जिन्ना को आमतौर पर कठोर व्यक्तित्व और स्पष्ट राजनीतिक दृष्टिकोण वाला इंसान माना जाता रहा है| जिन्ना का उद्देश्य राजनीतिक तौर पर खुद को स्थापित करना और साथ ही मुसलमानों के हितों का ध्यान रखना था। पाकिस्तान में एक खेमा जिन्ना को सेक्युलर शख्स बताता है, उसका कहना है कि जिन्ना पाकिस्तान को सेक्युलर मुल्क बनाना चाहते थे। वहीँ दूसरी तरफ कट्‌टरपंथी खेमा जिन्ना की शख्सियत को कट्‌टर मुस्लिम करार देता है। वह तर्क देता है कि मजहब के नाम पर इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ पाकिस्तान बनाया।
Source
भारत से गद्दारी कर इस देश के दो टुकड़े करने में खलनायक की मुख्य भूमिका निभाई लेकिन जिन्ना के बारे में जानकारी रखने वालों की माने तो उनका दिल मुंबई के मालाबार हिल में ही लगता था| जिन्ना का यह मुंबई प्रेम उनका अपने मुंबई स्थित आलीशान बंगले से प्रेम था या मुंबई से वास्तविक प्रेम इसपर आज भी संशय है| ऐसा इसलिए क्योंकि, जिन्ना को रूपये पैसे और संपत्तियों से बेइंतहां प्रेम था|

अगली स्लाइड में जानिए कैसे जिन्ना के सामने ही उनके बंगले से पाकिस्तान परस्त पार्टी का झंडा उतार कर फहराया गया गौ-रक्षा का झंडा..