गीता फोगाट वेजिटेरियन है फिर ये आमिर खान दंगल में नॉन वेजिटेरियन प्रोपोगंडा क्यों फैला रहा है ?

फिल्म को हिट कराना है हम समझते हैं लेकिन यह क्या बात हुई कि आप किसी की निजी ज़िन्दगी के तथ्यों के साथ ऐसे छेड़छाड़ कैसे कर सकते हैं

30693

फिल्म दंगल सिल्वर स्क्रीन पर उतरने से पहले से ही दर्शकों के बीच खासी पसंद की जा रही थी, जाहिर सी बात है ऐसे में अगर आमिर खान की फिल्म ‘दंगल’ जल्द ही 300 करोड़ रुपए का कारोबार पूरा कर भी ले तो लोगों को कुछ ख़ास अचरज नहीं होगा| हम आपको बता दें भारत और विदेशी मार्केट मिलाकर फिल्म चार दिनों में ही 200 करोड़ रुपए हासिल कर चुकी है|

Source

लेकिन क्या आपको पता है दर्शकों के बीच इतनी लोकप्रिय बन चुकी फिल्म दंगल में आमिर खान ने अपने मन मुताबिक कुछ फेरबदल भी किये हैं जिसपर गीता फोगाट के कोच ने आपत्ति भी जताई थी, लेकिन गीता फोगाट ने अपने गुरु प्यारा राम सोंधी के नाराज़गी पर चौंकाने वाला बयान देकर कहा था कि, “भले ही फिल्म दंगल में दिखाई गई कुछ घटनाएं वास्तविक नहीं हैं, पर फिल्म को रोमांचक बनाने के लिए इतना बदलाव चलता है।”

लेकिन क्या वाकई फिल्म में इन फेरबदल की कोई ज़रुरत थी? आज हम आपको बताने जा रहे हैं फिल्म दंगल, जो पहलवान महावीर फोगाट जी ओर उनकी बेटियाँ गीता और बबीता फोगाट की ज़िंदगी पर आधारित है, में आमिर खान ने कुछ ऐसे भी बिना वजह के फेरबदल कर डाले हैं जिनका असल गीता फोगाट और महावीर फोगाट की ज़िन्दगी से कोई लेना देना ही नहीं है, जैसे कि…

महावीर फोगाट हनुमान भक्त है लेकिन फ़िल्म में ऐसा कोई सीन नहीं दिखाया गया है|

महावीर फोगाट ने शराब या धूम्रपान कभी भी नहीं किया लेकिन फ़िल्म में उन्हें कई बार शराब का सेवन करता दिखाया गया है|

महावीर फोगाट ने अपने बच्चों का वज़न बढ़ाने के लिए कभी भी नॉन वेज नहीं खिलाया, महावीर फोगाट और उनका पूरा परिवार शुद्ध शाकाहारी हैं, लेकिन फ़िल्म में हलाल कसाई से चिकन लेकर बच्ची को खिलाने का सीन दिखाया गया है|

Source

हम यहाँ आपको बता दें हरियाणा के लगभग सभी बड़े बाक्सर ओर पहलवान सुशील कुमार, योगेश्वर दत्त, दारा सिंह, खली, या और कोई भी बड़े खिलाड़ी, शुद्ध शाकाहारी है| यहाँ सवाल यह उठता है कि ऐसे में फिल्म में नॉन-वेज का सीन दिखाने का क्या तुक था?

Source

यही नहीं फिल्म दंगल में और भी कई कमियां हैं जिन्हें नज़रंदाज़ नहीं किया जा सकता जैसे, महावीर फोगाट जी ने अपनी भतीजी को भी पहलवान बनाया जो कि आमिर खान ने फिल्म में नहीं दिखाया है| इसके अलावा महावीर फोगाट की बीवी 3 बार सरपंच बनी लेकिन फिल्म में इस बात का भी जिक्र करना आमिर खान ने मुनासिब नहीं समझा| इसके साथ ही महावीर फोगाट का एक छोटा बेटा भी है जिसके बारे में फिल्म में कोई ज़िक्र नहीं किया गया है| इसके साथ ही महावीर फोगाट को भारत सरकार की तरफ़ से द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया है जिसका फिल्म में दूर-दूर तक कोई ज़िक्र नहीं है|

वीडियो के ज़रिये देखिये आमिर खान के इस्लामिक प्रोपोगंडा का एक नमूना…