वे भारतीय जिन्होंने अमेरिका की सिलिकॉन वैली में बजाया अपना डंका

712

अमेरिका की सिलिकॉन वैली में काम करना हर एक आईटी प्रोफेशनल का सपना होता है। सिलिकॉन वैली को दुनिया का आईटी हब कहा जाता है जहाँ पर दुनिया की 70% आईटी कंपनियां काम करती है पर आपको जानकर हैरानी होगी की यहाँ पर काम करने वाले कुल 8% टेक्नीशियन भारत के है लेकिन स्टार्टअप करने वाली कंपनियों में 17% भारतीय है जो भारत के लिए गर्व की बात है। इसलिए कहा जाता है की आईटी में भारतीयों का अब दुनिया में दबदबा बढ़ रहा है। जब सिलिकॉन वैली में इतने भारतीय है तो स्वाभाविक है की वहां पर भारतीय सफल भी हुए हो। तो आज हम आपको बता रहे है उन बड़े प्रोफेशनल्स के बारे में जिन्होंने सिलिकॉन वैली में स्थित टॉप आईटी कंपनियों में ऊँचा शिखर पाया है।

1. सुंदर पिचाई

Source : wallpapersrise.com
Source : wallpapersrise.com

सर्च इंजन गूगल के सीईओ सुन्दर पिचाई मूल रूप से भारत के चेन्नई से है। वे उन भारतीयों में सबसे अधिक प्रसिद्ध है जिन्होंने अपनी प्रतिभा से उच्च शिखर प्राप्त किया। सुन्दर सन 2004 से गूगल से जुड़े हुए है और 2015 में वह गूगल के सीईओ बन गए। गूगल अब अल्फाबेट नाम की कंपनी की इकाई बन चुकी है जिसके सीईओ लैरी पेज है जो गूगल के संस्थापक भी है। गूगल के सीईओ बनने से पहले पिचाई ने वेब ब्राउजर गूगल क्रोम की स्थापना की थी।

[sam id=”1″ codes=”true”]

1 of 7

Loading...
Loading...