84 वर्षीय इस भारतीय ने सेना के लिए उठाया है ऐसा कदम जिसके बारे में सुनकर सब हैं हैरान!

9600

84 साल के एक रिटायर्ड क्लर्क और उनकी पत्नी ने जवानों के लिए वो काम किया है, जिसे सुनकर किसी का भी सिर सम्मान से उठ जाए। सेलीब्रिटी और उद्योगपतियों की लिस्ट से बाहर इस आम दंपति ने अपनी जीवनभर की कमाई और बचत के एक करोड़ रुपए सेना के नाम कर दिए हैं। सीमा पर हमारी सुरक्षा के लिए गोली खाते, सबकुछ छोड़कर देश पर जान लुटाते जवानों के लिए इस दंपति ने अपनी कमाई दे दी।

source

भावनगर के रहने वाले रिटायर्ट क्लर्क जनार्दन भट्ट और उनकी पत्नी ने फैसला किया कि बचत का पैसा और जीवनभर की कमाई सेना को समर्पित की जाए। दंपति आएदिन न्यूज चैनल और अखबारों में सीमा पर हालात और हमारे जवानों की हालत देख रहे थे कि कैसे वो चुनौतियों के सामने डट कर खड़े हैं। लिहाजा उन्होंने एक करोड़ रुपए नेशनल डिफेंस फंड में जमा कराया।

जनार्दन जी से इस बारे में सवाल करने पर उन्होंने कहा कि, “जब हमारी शादी के 50 साल पूरे हुए तो मैं और मेरी पत्नी ने तय किया कि जो हमारे पास है वो सब कुछ समाज को अर्पण करते हैं…जो पेंशन मिलेगा उसी पर गुजारा करेंगे..इसी विचार से हमने एक करोड़ रुपये नेशनल डिफेंस फंड में दान कर दिया…दो लाख रुपये आर्मी वेलफेयर फंड में दान कर दिया|  यह पहली बार नहीं है जब जनार्दन भाई ने सैनिकों के परिवारों की मदद की है| इससे पहले भी वह कई बार अपने साथियों के साथ मिलकर पैसे जुटाए और उसे सैनिकों के लिए बनाए गए अलग-अलग फंड में जमा कराया|

SOURCE

जनार्दन भट्ट स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में क्लर्क रहे। उनकी जिंदगी और उनकी पहचान एक नेक इंसान के तौर पर होती है। लोग कहते हैं कि उन्होंने कोशिश की कि हर जरूरतमंद को मदद मिले। उन्होंने अपनी बचत का बड़ा हिस्सा बचा कर रखा था। जो सेना को दे दिया। इससे पहले भी उन्होंने 54 लाख की चैरिटी की थी। ये पैसे उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर जुटाए थे।