अंतरिक्ष में एक बार फिर से तिरंगा लहराने को तैयार है भारत की ये तीसरी बेटी,लेकिन इस बार ये होगा फेरबदल…

2171

एक बार फिर से भारतीय मूल की तीसरी महिला अन्तरिक्ष में नया इतिहास रचने को तैयार है . यह महिला कनाडा में अल्बर्टा यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में जनरल फिजीशियन के रूप में काम कर रही है. इनका नाम स्वाना पांड्या है, और अब ये अन्तरिक्ष यात्री बनने जा रही है. सिटिज़न साइंस एस्ट्रोनॉट कार्यक्रम में अन्तरिक्ष में जाने के लिए 3200 लोगो ने हिस्सा लिया था, जिसमे से सिर्फ दो लोगों को चुना गया है और अब यह लोग 2018 में होने वाले अन्तरिक्ष मिशन के लिए रवाना होंगे.

स्वाना कनाडा में भारतीय मूल की निवासी है. नासा ने स्वाना को न्यूरोसर्जन के रूप में नागरिक विमान अन्तरिक्ष (CAA) के लिए चुना है, जो 2018 में अन्तरिक्ष मिशन में शामिल होंगी. अगर स्वाना अंतरिक्ष यात्री बन जाती है तो कल्पना चावला, सुनीता विलियम के बाद स्वाना का नाम तीसरी भारतीय अंतरिक्ष महिला के रूप में जाना जायेगा.

अगले पेज पर पढ़ें स्वाना की खुद की जुबानी इतने बड़े लक्ष्य को पाकर अब क्या कह रही हैं वो… 

1 of 2

Loading...
Loading...