चेतावनी देने के बाद भी नहीं माने लोग अब सरकार को उठाना पड़ा ये कदम…

बीस से ज्यादा सोशल साइट्स के इस्तेमाल पर सरकार ने लगाई रोक...

4759

आज के युवा सोशल मीडिया पर इतने एक्टिव रहते है कि उनको हर चीज का पता सोशल मीडिया से ही चलता है.  सोशल मीडिया आज के वक्त में हर इंसान की जरूरत बन गई है. सोशल मीडिया का फायदा कुछ लोग गलत चीजों के लिए भी उठाते है वो हिंसा के लिए हो या फिर कुछ गलत दिखाने के लिए हो. लेकिन 26 अप्रैल को सरकार ने बीस से ज्यादा सोशल साइट्स के इस्तेमाल पर  रोक लगा दी है.

source

हिंसा को रोकने के लिए पीएम मोदी ने ये बड़ा कदम उठाया है. गृह विभाग ने आदेश जारी कर इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडरों को सोशल मीडिया की साइट पर रोक लगाने को कहा है. उपद्रवी तत्व सोशल मीडिया के सहारे अफवाहें फैलाकर हिंसा भड़का रहे थे. इस आदेश के बाद अब कोई यू ट्यूब पर भी कुछ अपलोड नहीं कर सकेगा. सरकार के फैसले के बाद फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्विटर, क्यू क्यू, वीचैट, क्यूजोन, टूंबिर, गूगल प्लस, बैडू, स्काइप, लाइन, वायवर, स्नैपचैट, पिंटरेस्ट, टेलीग्राम, रेडिट, स्नैपफिश, यू ट्यूब अपलोड, वाइन, जैंगा, बजनेट और फ्लिकर साइटों पर रोक लग गई है.

अगले पेज पर पढ़िए कौन सी है वो जगह जहां पर बैन की गई है सोशल  साइट्स