भगवान कृष्ण पर अभद्र टिप्पणी करके हिन्दुओं की भावना को ठेस पहुँचाने वाले प्रशांत भूषण को जब पड़ा तमाचा!

ये कोई पहली बार नहीं है जब प्रशांत भूषण ने इस तरह की अभद्र टिप्पणी की हो

5221

मशहूर वकील प्रशांत भूषण ने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए गए एंटी-रोमियो स्क्वॉड की आलोचना करते हुए हाल ही में अपनी गन्दी राजनीति में भगवान कृष्ण को भी खींच लिया था। भूषण ने शेक्सपियर के एक नाटक के पात्र रोमियो और भगवान श्रीकृष्ण की आपस में तुलना कर दी। भूषण ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि, “रोमियो ने केवल एक लड़की से प्यार किया था जबकि भगवान कृष्ण तो लड़कियों को छेड़ने के लिए मशहूर थे।” अपनी इसी अभद्र ट्वीट में भूषण ने आगे लिखा था कि, “क्या आदित्यनाथ के अंदर हिम्मत है कि वो एंटी रोमियो स्क्वाड को एंटी कृष्ण स्क्वाड कहेंगे?”

भूषण के बेहद शर्मनाक ट्वीट के बाद भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने उनके सवाल का जवाब भी उनको उन्ही की भाषा में देते हुए लिखा था कि, “भगवान कृष्ण को समझने के लिए प्रशांत भूषण को कई जन्म लेने होंगे।” उन्होंने भूषण के ट्वीट की निंदा करते हुए आगे लिखा कि, “वह कितनी आसानी से कृष्ण जी को राजनीति में घसीट लाए हैं। भूषण का ऐसा करना बहुत ही दुख की बात है।”

यहाँ हम आपको बता दें कि ये कोई पहली बार नहीं है जब प्रशांत भूषण ने इस तरह की अभद्र टिप्पणी की हो| इसके पहले भी प्रशांत भूषण की एक टिप्पणी की वजह से उनको तमाचा तक जड़ा जा चुका है और उसी वाकये का वीडियो हम आपको दिखाने जा रहे हैं|

देखिये वीडियो:  

हालाँकि ये वीडियो तो पुराना है लेकिन जिस तरह की अभद्र भाषा का उपयोग प्रशांत भूषण ने भगवान कृष्ण के लिए किया है उसे देखकर तो यही लगता है कि प्रशांत भूषण को सही राह पर लाने के लिए इस तरह का हथकंडा अपनाना पड़ेगा|

बता दें कि योगी आदित्यनाथ के सीएम बनते ही एंटी रोमियो स्क्वाड का गठन करते हुए लड़कियों को छेड़ने वाले मनचलों पर सख्त कार्रवाई शुरू कर दी है। मालूम हो कि भूषण से पहले भी कई लोग इस स्क्वॉड का नाम ऐंटी-रोमियो रखने पर आपत्ति जता चुके हैं। आलोचकों का कहना है कि रोमियो शेक्सपियर के एक मशहूर नाटक का पात्र है और रोमियो-जूलियट की प्रेम कहानी उनके आपसी प्यार और समर्पण के लिए पूरी दुनिया में विख्यात है।